WHAT WE DO

Provide the Best Service...

शबरी की हिन्दी सेवा...

- एम. श्रीधर, संस्थापक, शबरी शिक्षा संस्थान, सेलम

 

शबरी शिक्षा संस्थान, सेलम

 दक्षिण भारत के अहिन्दी भाषा प्रदेश तमिलनाडु के सेलम शहर से प्रांत में मात्र नहीं भारत भर में हिन्दी की सेवा में शबरी शिक्षा संस्थान, सेलम लगा हुआ है |  विभिन्न प्रकार से इस संस्थान की सेवा निरंतर आगे बढती जा रही है |  हर घर में हिन्दी, हर मन में हिन्दी का नारा अपनाकर यह संस्थान सन् १९९८ से लगभग आज तक हिन्दी सेवा में निरंतर कार्यरत है |  आरंभ में दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा परीक्षाओं के लिए छात्रों को भेजकर इस संस्थान की सेवा शुरू हुई |  सेलम शहर में हिन्दी पुस्तकों को उपलब्ध करने के उद्देश्य से पुस्तक बिक्री शुरू की गयी |

प्रकाशन विभाग

 हिन्दी की बढती मॉंग तथा बढती हिन्दी सेवा को ध्यान में रखते हुए हिन्दी प्रकाशन विभाग शुरू किया गया | आरंभ में हिन्दी परीक्षाओं के लिए सरल व उपयोगी गॉंधीजी प्रश्‍नोत्तर प्रकाशित किया गया |  नमूने के प्रश्‍न पत्र छापे गये |  शबरी ज्ञान बोधिनी के प्रकाशन से अनेकानेक हिन्दी हृदय लाभान्वित हुए |  फिर छात्रोपयोगी किताबें प्रकाशित की गयीं | विद्यालयों के उपयोगी पुस्तकें निकाली गयीं |  ज्ञानवर्धत तथा भाषा को विकसित करनेवाली अनेक पुस्तकें निकाली गयी |  छात्रोपयोगी कुंजियॉं निकाली गयी |  हिन्दी लेखकों और कवियों का सम्मान करने हेतु कुछ पुस्तकें छापी  गयीं |  दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा के प्राथमिक से प्रवीण तक की परीक्षाओं के लिए कुंजियॉं तैयार करने लगे |  निबंध, व्याकरण आदि के भी पुस्तकें निकाली गयीं |  शबरी शब्द सागर-त्रिभाषा हिन्दी कोश निकालकर अपने आप को एक सफल प्रकाशक बनाने का श्रेय भी इस संस्थान को मिला है |  प्रकाशन विभाग से अभी तमिल और अंग्रेजी में भी पुस्तकें प्रकाशित की जारी है |  साहित्य के साथ भाषा के संपूर्ण विकास का प्रयास निरंतर जारी है |

शबरी शिक्षा समाचार पत्रिका

 शबरी शिक्षा समाचार पत्रिका शबरी से निकाली जानेवाली मासिक पत्रिका है |  पिछले बीस सालों से यह पत्रिका निरंतर निकाली जा रही है |  दक्षिण भारत से निकाली जानेवाली एक मात्र निजी मासिक साहित्यिक पत्रिका शबरी शिक्षा समाचार है |  नव लेखकों को प्रेरणा देने के साथ साथ साहित्य को समृद्ध बनाने का काम निरंतर इस पत्रिका से किया जा रहा है |  पत्रिका भारत भर में मात्र नहीं विदेशों में भी भेजी जा रही है |  अनेकानेक हिन्दी प्रेमी इससे लाभान्वित हैं |

शबरी परिवार मिलन

 हिन्दी हृदयों को एक झुट में लाने तथा उनमें आत्मीयता बढाने के उद्देश्य से तमिलनाडु के विभिन्न शहरों में शबरी परिवार मिलन चलाया जाता है |  हिन्दी से संबंधित विभिन्न विषय इसमें स्थान पाता है |  प्रशिक्षण के साथ हिन्दी हृदयों में प्रेरणा भरने का काम यह मिलन करता है |  परिवार मिलन में हिन्दी हृदय बड़ी उमंग के साथ भाग लेते हैं |  विशिष्ट अतिथि अपना विचार व्यक्त करते हैं |  साहित्यिक संगोष्ठियों के साथ हिन्दी को सही दशा दिशा प्रदान करने की बातों पर प्रकाश डाला जाता है |  ओसूर से शुरू किया गया यह मिलन चेन्नै, सेलम, मदुरै, तिरुच्चि आदि विभिन्न शहरों में संपन्न हुआ है |  इस मिलन में हिन्दी के सभी प्रेमियों सम्मानित किये जाते हैं |  शबरी परिवार की ओर से परिवार मिलन साल में एक बार चलाया जा रहा           है |

 हिन्दी हृदयों में उमंग भरने के साथ हिन्दी सेवियों को गौरव प्रदान करने के उद्देश्य से शबरी परिवार की ओर से सम्मान प्रदान किया जा रहा           है |

शबरी साहित्य सम्मान

 देश भर के हिन्दी लेखकों तथा सेवियों का सम्मान शबरी शिक्षा संस्थान से किया जाता है |  शबरी साहित्य शिरोमणि सम्मान, अतुल हिन्दी सेवी सम्मान आदि से हिन्दी सेवी सम्मानित किये जाते हैं |  लेखकों के साथ हिन्दी प्रचारक, हिन्दी सेवी सम्मानित किये जाते हैं |

शबरी वाणी विकास

 शबरी के वाणी विकास परीक्षाऍं हिन्दी बोलचाल की शैली को छात्रों तक ले जाने के साथ उनमें हिन्दी के प्रति रुचि बढाने का महत्वपूर्ण कार्य करता है |  प्रांत भर के अनेक शहरों से वाणी विकास परीक्षा के लिए छात्र तैयार किये जाते हैंे |  उचित पाठ्यक्रम के साथ हिन्दी में बोलने का प्रशिक्षण इस परीक्षा से दिया जाता है |  इससे हिन्दी शिक्षकों के साथ छात्र भी लाभान्वित हैं |  तमिलनाडु के कोने कोने में हिन्दी को पहुँचाने तथा हिन्दी को हृदयों में स्थान देने के उद्देश्य से वाणी विकास परीक्षाएँ चलायी जाती हैं |

 शबरी परिवार की ओर से और भी अनेक सेवाऍं हिन्दी को हर घर में हर मन में पहुँचाने का प्रयास निरंतर जारी है |  इसके श्री एम. वेंेकटेश्‍वरन तथा श्री एम. श्रीधर भाई हिन्दी की सेवा में तन मन धन से लगे हुए हैं |  इनकी हिन्दी सेवा हर हिन्दी हृदय से प्रशंसित है |

शबरी की हिन्दी सेवा...

- एम. श्रीधर, संस्थापक, शबरी शिक्षा संस्थान, सेलम

 

शबरी शिक्षा संस्थान, सेलम

 दक्षिण भारत के अहिन्दी भाषा प्रदेश तमिलनाडु के सेलम शहर से प्रांत में मात्र नहीं भारत भर में हिन्दी की सेवा में शबरी शिक्षा संस्थान, सेलम लगा हुआ है |  विभिन्न प्रकार से इस संस्थान की सेवा निरंतर आगे बढती जा रही है |  हर घर में हिन्दी, हर मन में हिन्दी का नारा अपनाकर यह संस्थान सन् १९९८ से लगभग आज तक हिन्दी सेवा में निरंतर कार्यरत है |  आरंभ में दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा परीक्षाओं के लिए छात्रों को भेजकर इस संस्थान की सेवा शुरू हुई |  सेलम शहर में हिन्दी पुस्तकों को उपलब्ध करने के उद्देश्य से पुस्तक बिक्री शुरू की गयी |

प्रकाशन विभाग

 हिन्दी की बढती मॉंग तथा बढती हिन्दी सेवा को ध्यान में रखते हुए हिन्दी प्रकाशन विभाग शुरू किया गया | आरंभ में हिन्दी परीक्षाओं के लिए सरल व उपयोगी गॉंधीजी प्रश्‍नोत्तर प्रकाशित किया गया |  नमूने के प्रश्‍न पत्र छापे गये |  शबरी ज्ञान बोधिनी के प्रकाशन से अनेकानेक हिन्दी हृदय लाभान्वित हुए |  फिर छात्रोपयोगी किताबें प्रकाशित की गयीं | विद्यालयों के उपयोगी पुस्तकें निकाली गयीं |  ज्ञानवर्धत तथा भाषा को विकसित करनेवाली अनेक पुस्तकें निकाली गयी |  छात्रोपयोगी कुंजियॉं निकाली गयी |  हिन्दी लेखकों और कवियों का सम्मान करने हेतु कुछ पुस्तकें छापी  गयीं |  दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभा के प्राथमिक से प्रवीण तक की परीक्षाओं के लिए कुंजियॉं तैयार करने लगे |  निबंध, व्याकरण आदि के भी पुस्तकें निकाली गयीं |  शबरी शब्द सागर-त्रिभाषा हिन्दी कोश निकालकर अपने आप को एक सफल प्रकाशक बनाने का श्रेय भी इस संस्थान को मिला है |  प्रकाशन विभाग से अभी तमिल और अंग्रेजी में भी पुस्तकें प्रकाशित की जारी है |  साहित्य के साथ भाषा के संपूर्ण विकास का प्रयास निरंतर जारी है |

शबरी शिक्षा समाचार पत्रिका

 शबरी शिक्षा समाचार पत्रिका शबरी से निकाली जानेवाली मासिक पत्रिका है |  पिछले बीस सालों से यह पत्रिका निरंतर निकाली जा रही है |  दक्षिण भारत से निकाली जानेवाली एक मात्र निजी मासिक साहित्यिक पत्रिका शबरी शिक्षा समाचार है |  नव लेखकों को प्रेरणा देने के साथ साथ साहित्य को समृद्ध बनाने का काम निरंतर इस पत्रिका से किया जा रहा है |  पत्रिका भारत भर में मात्र नहीं विदेशों में भी भेजी जा रही है |  अनेकानेक हिन्दी प्रेमी इससे लाभान्वित हैं |

शबरी परिवार मिलन

 हिन्दी हृदयों को एक झुट में लाने तथा उनमें आत्मीयता बढाने के उद्देश्य से तमिलनाडु के विभिन्न शहरों में शबरी परिवार मिलन चलाया जाता है |  हिन्दी से संबंधित विभिन्न विषय इसमें स्थान पाता है |  प्रशिक्षण के साथ हिन्दी हृदयों में प्रेरणा भरने का काम यह मिलन करता है |  परिवार मिलन में हिन्दी हृदय बड़ी उमंग के साथ भाग लेते हैं |  विशिष्ट अतिथि अपना विचार व्यक्त करते हैं |  साहित्यिक संगोष्ठियों के साथ हिन्दी को सही दशा दिशा प्रदान करने की बातों पर प्रकाश डाला जाता है |  ओसूर से शुरू किया गया यह मिलन चेन्नै, सेलम, मदुरै, तिरुच्चि आदि विभिन्न शहरों में संपन्न हुआ           है |  इस मिलन में हिन्दी के सभी प्रेमियों सम्मानित किये जाते हैं |  शबरी परिवार की ओर से परिवार मिलन साल में एक बार चलाया जा रहा है |

 हिन्दी हृदयों में उमंग भरने के साथ हिन्दी सेवियों को गौरव प्रदान करने के उद्देश्य से शबरी परिवार की ओर से सम्मान प्रदान किया जा रहा है |

शबरी साहित्य सम्मान

 देश भर के हिन्दी लेखकों तथा सेवियों का सम्मान शबरी शिक्षा संस्थान से किया जाता है |  शबरी साहित्य शिरोमणि सम्मान, अतुल हिन्दी सेवी सम्मान आदि से हिन्दी सेवी सम्मानित किये जाते हैं |  लेखकों के साथ हिन्दी प्रचारक, हिन्दी सेवी सम्मानित किये जाते हैं |

शबरी वाणी विकास

 शबरी के वाणी विकास परीक्षाऍं हिन्दी बोलचाल की शैली को छात्रों तक ले जाने के साथ उनमें हिन्दी के प्रति रुचि बढाने का महत्वपूर्ण कार्य करता है |  प्रांत भर के अनेक शहरों से वाणी विकास परीक्षा के लिए छात्र तैयार किये जाते हैंे |  उचित पाठ्यक्रम के साथ हिन्दी में बोलने का प्रशिक्षण इस परीक्षा से दिया जाता है |  इससे हिन्दी शिक्षकों के साथ छात्र भी लाभान्वित हैं |  तमिलनाडु के कोने कोने में हिन्दी को पहुँचाने तथा हिन्दी को हृदयों में स्थान देने के उद्देश्य से वाणी विकास परीक्षाएँ चलायी जाती हैं |

 शबरी परिवार की ओर से और भी अनेक सेवाऍं हिन्दी को हर घर में हर मन में पहुँचाने का प्रयास निरंतर जारी है |  इसके श्री एम. वेंेकटेश्‍वरन तथा श्री एम. श्रीधर भाई हिन्दी की सेवा में तन मन धन से लगे हुए हैं |  इनकी हिन्दी सेवा हर हिन्दी हृदय से प्रशंसित है |

SHABARI the Becon

Light of HINDI ...